राजनीतिक समाजशास्त्रा की रूपरेखा (RAJNETIK SAMAJSHASTRA KI RUPREKHA)

By शशि शर्मा, ( Sashi Sharma )

SKU: 9788120351226

Availability: In stock

Regular Price: Rs. 450.00

Special Price Rs. 405.00

You Save: Rs. 45

Sample content of the static block - primary column bottom.

"राजनीतिक समाजशास्त्रा की रूपरेखाय्" का नवीन संस्करण आपके सम्मुख है। विषय सूची में अधिक बदलाव न करते हुए, भारत में चुनावी राजनीति एवं मतदान व्यवहार, राजनीतिक प्रक्रियाएं तथा राजनीतिक दल एवं दलीय प्रणालियां जैसे विषयों का उद्यतन किया गया है। एक स्वायत्त अंतरानुशासनिक वर्णसंकर अनुशासन के रूप में दृश्य शक्ति के विविध आयामों के साथ व्यवस्था में शक्तिधारक एवं शक्ति-प्रेषक की यथोचित स्थिति इसकी अध्ययन-सामग्री का बुनियादी विषय है। स्वतंत्रा रूप से उभरता यह नया विषय देश के अधिकांश विश्वविद्यालयों में स्नातक तथा स्नातकोत्तर स्तर पर राजनीति विज्ञान एवं समाजशास्त्रा केे पाठ्यक्रम में शामिल है। इस विषय पर पुस्तकों की उपलब्धता काफी कम है, और जो कृतियां मौजूद हैं वे विषय के अध्ययन-क्षेत्रा की व्यापकता और प्रासंगिकता की दृष्टि से अपर्याप्त हैं। विषय की उपयोगिता और विद्यार्थियों की आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए इस कृति में संदर्भगत संकल्पनाओं की प्रस्तुति सरल एवं सुबोध शैली में की गई है, और विषय के स्पष्टीकरण हेतु अपेक्षानुरूप रेखाचित्रों के माध्यम से परिच्छेदों को सुरुचिपूर्ण बनाने का प्रयास किया गया है।

यह पुस्तक राजनीति विज्ञान एवं समाजशास्त्रा के बी.ए. ‘आॅनर्स’ तथा एम.ए. के विद्यार्थियों के लिए लिखी गई है। साथ ही, यह यू.जी.सी. की नेट परीक्षा तथा सिविल सेवा परीक्षा के परीक्षार्थियों के लिए एवं राजनीति विज्ञान तथा समाजशास्त्रा के शोधर्थियों के लिए अत्यंत उपयोगी है।

प्रमुख विशेषताएं

• विषय के उद्भव एवं विकास में योगदान देने वाले नामचीन समाजशास्त्रिायों, अर्थशास्त्रिायों एवं मनोविज्ञानियों द्वारा प्रस्तुत संकल्पनाओं का सारगर्भित विवरण।
• विषयगत अध्ययन के लिए प्रयुक्त विभिन्न उपागमों का रेखाचित्रा के साथ विश्लेषण।
• राजनीतिक व्यवस्था एवं समाज के मध्य अंतर्संबंधों की विवेचना।
• राजनीतिक व्यवस्था एवं राजनीतिक प्रक्रियाओं की विश्लेषणात्मक प्रस्तुति रेखाचित्रों के साथ।
• राजनीतिक अभिजन, राजनीतिक संस्कृति, राजनीतिक समाजीकरण, राजनीतिक लामबंदी, राजनीतिक विकास, राजनीतिक आधुनिकीकरण, राजनीतिक भर्ती, राजनीतिक दल, दबाव समूह एवं नौकरशाही अवधारणाओं पर भारतीय परिप्रेक्ष्य में विशेष आलेख।
• भारत में चुनाव व्यवस्था और मतदान व्यवहार पर विशेष सामग्री एवं सभी चुनावों की परिणाम तालिका।
• पंद्रहवीं एवं 2014 में संपन्न सोलहवीं लोकसभा चुनाव पर विस्तृत चर्चा परिणाम तालिका के साथ।
• भारत में राजनीतिक प्रक्रियाएंकृराजनीति और समाज के संबंधों की विश्लेषणपरक प्रस्तुति।
• भारत में राजनीतिक दल एवं दलीय व्यवस्था पर विशेष प्रस्तुति।
• बु(िजीवियों की राजनीतिक भूमिका एवं सार्थकता जैसे समसामयिक प्रसंग पर विशेष आलेख।
• पारिभाषिक शब्दावली की विशिष्ट प्रस्तुति।

इस नवीन संस्करण में अध्याय 19 ;भारत में चुनावी राजनीति के बदलते आयाम और मतदान व्यवहारद्ध, अध्याय 20 ;भारत में राजनीतिक प्रक्रियाएंः राजनीति और समाज के मध्य संबंधद्ध, एवं अध्याय 21 ;राजनीतिक दल और दलीय प्रणालियांः भारत की दलीय प्रणालीµएक परिचयद्ध को यथासंभव संशोधित कर भारत की राजनीति से संदर्भित समसामयिक प्रसंगों पर विशेष आलेख की प्रस्तुति की जा रही है। साथ-ही, 16वीं लोकसभा चुनाव से प्रासंगिक सभी प्रकार की अद्यतन ;नच.जव.कंजमद्ध सामग्री एवं भारत की दलीय-प्रणाली पर विशिष्ट समसामयिक विवरण आपके समक्ष प्रस्तुत है।

Details

Details

प्रस्तावना (Preface) 1. राजनीतिक समाजशास्त्राः अर्थ, प्रकृति, क्षेत्रा एवं महत्त्व (Political Sociology: Meaning, Nature, Scope and Importance) 2. राजनीतिक समाजशास्त्राः विकास के विभिन्न आयाम (Political Sociology: Different Dimensions of Development) 3. व्यवहारवादी उपागम (Behavioural Approach) 4. राजनीतिक व्यवस्था विश्लेषण उपागम (Political System Analysis Approach) 5. संरचनात्मक-प्रकार्यात्मक उपागम (Structural Functional Approach) 6. राजनीति विज्ञान में वैज्ञानिक अध्ययन प(तिः तथ्य एवं मूल्य विवाद के परिप्रेक्ष्य में (Scientific Method in Political Science: In Context of Fact and Value Dichotomy) 7. राजनीतिक समाजशास्त्रा का अन्य समाज विज्ञानों से संबंध (Relationship of Political Sociology with Other Social Sciences) 8. राजनीतिक व्यवस्था एवं समाज के बीच अंतर्संबंध (Interrelationship between Political System and Society) 9. राजनीतिक व्यवस्था एवं प्रक्रियाः संप्रत्यय, वर्गीकरण एवं क्रियात्मकता (Political System and Process: Concepts, Classification and Activity) 10. जनतांत्रिक एवं सर्वाधिकारवादी व्यवस्थाएंः सामाजिक-आर्थिक स्थितियां, उनका आविर्भाव एवं स्थायित्व के संवाहक (Democratic and Totalitarian Systems: Socio-economic Conditions Conductive for their Emergence and Stability) 11. राजनीतिक अभिजन (Political Elite) 12. राजनीतिक संस्कृति (Political Culture) 13. राजनीतिक समाजीकरण (Political Socialisation) 14. राजनीतिक सहभागिता, उदासीनता एवं लामबंदी (Political Participation, Apathy and Mobilisation) 15. राजनीतिक विकास (Political Development) 16. राजनीतिक आधुनिकीकरण Political Modernisation) 17. राजनीतिक भर्ती (Political Recruitment) 18. राजनीतिक संचार Political Communication) 19. भारत में चुनावी राजनीति के बदलते आयाम और मतदान व्यवहार (Changing Dimensions of Electoral Politics in India and Voting Behaviour) 20. Hभारत में राजनीतिक प्रक्रियाएंः राजनीति और समाज के मध्य संबंध (Political Processes in India: Relationship between Politics and Society) 21. राजनीतिक दल और दलीय प्रणालियांः भारत की दलीय प्रणालीµएक परिचय (Political Parties and Party Systems: An Introduction to Indian Party Systems) 22. दबाव समूह एवं हित समूह (Pressure Groups and Interest Groups) 23. जनमत (Public Opinion) 24. नौकरशाही की अवधारणा (The Concept of Bureaucracy) 25. बु(िजीवियों की राजनीतिक भूमिकाः सार्थकता (Political Role of Intellectuals: Significance) पारिभाषिक शब्दावली (Technical Terminology) ग्रंथसूची (Bibliography) अनुक्रमणिका (Index)

Additional Info

Additional Info

Author शशि शर्मा, ( Sashi Sharma )
ISBN 9788120351226
Publisher PHI
Year of Publication No

Reviews

Write Your Own Review

You're reviewing: राजनीतिक समाजशास्त्रा की रूपरेखा (RAJNETIK SAMAJSHASTRA KI RUPREKHA)

Tags

Tags

Use spaces to separate tags. Use single quotes (') for phrases.